अगर आपके हाथों पर भी बनता है ये निशान तो अभी जान ले इसके बारे में

0
61
IMG alag

आपने अपने जीवन में अक्सर इस बात को महसूस किया होगा कि जब कभी आपका हाथ काफी लंबे वक्त तक पानी में रहता है तो आपके उंगलियों में सिलवटें पड़ जाती है। पर क्या आपको उंगलियों में पड़ने वाली उन सिलवटों के पीछे की वजह मालूम है। अगर आपको नहीं पता तो आज हम आपको इसके पीछे की वजह के बारे में बताने वाले हैं। जिसके बारे में जानकर आप भी हैरान रह जाएंगे। तो चलिए जानते हैं कि ज्यादा देर तक हाथों को पानी में रखने से हाथों की उंगलियों के ऊपर सिलवटें क्यों बन जाती है।

जब तक हाथों में पड़ने वाली सिलवटों के पीछे की वजह लोगों को मालूम नहीं हुआ करती थी तब तक ऐसा माना जाता था कि हाथ को ज्यादा देर तक पानी में भिगोकर रखने से त्वचा के अंदर मौजूद पानी बाहर निकलने लगता है। त्वचा के अंदर मौजूद पानी के बाहर निकलने की वजह से ही हाथों की उंगलियों के ऊपर सिलवटें आ जाती है। ठीक ऐसा ही पैरों की उंगलियों के साथ भी होता है। परंतु इस प्रक्रिया को लेकर किए गए लंबे रिसर्च के बाद अब इसके पीछे की सही वजह वैज्ञानिकों को मालूम पड़ चुकी है।

वैज्ञानिकों के मुताबिक मनुष्य के हाथों और पैरों की उंगलियों के ऊपर सिलवटें इसलिए पड़ती है क्योंकि सिलवटों के पड़ने से किसी भी चीज को पकड़ने में मनुष्य को आसानी होती है। सिलवटें पड़ जाने के बाद मनुष्य के हाथों और पैरों की पकड़ भी पहले के मुकाबले बेहतर हो जाती है। न्यूकासल यूनिवर्सिटी में किया गया एक रिसर्च में यह बात सामने आई है कि त्वचा के अंदर स्वतंत्र तंत्रिका काम किया करता है और यही स्वतंत्र तंत्रिका त्वचा को सिकुड़ने में हमारी शरीर की मदद करता है। त्वचा के सिकुड़न की वजह से ही हमारी हाथों और पैरों की उंगलियों में सिलवटें पड़ती है।

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि स्वतंत्र तंत्रिका ही सास धड़कन और मनुष्य के पसीने को भी पूरी तरह से नियंत्रित करती है। रिसर्च के मुताबिक सिलवटें गीली परिस्थितियों में इंसान को बेहतर ग्रिप मुहैया कराने में मदद करती है। वैज्ञानिक डॉ श्मलडर्स की मानें तो पुराने जमाने में इंसान उंगलियों पर पड़ने वाली सिलवटों की मदद से ही गीले इलाके में खाना और पानी ढूंढ पाने में कामयाब हुआ करता था। सिलवटों के पड़ जाने के बाद इंसान को चलने फिरने में बहुत ही ज्यादा आसानी होती थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here