“दिल्ली इंटरनेशनल आर्ट फेस्टिवल” का दूसरा दिन रहा बेहद शानदार

0
26

नोएडा के मारवाह स्टूडियो में चल रहे “दिल्ली इंटरनेशनल आर्ट फेस्टिवल” का दूसरा दिन बेहद शानदार रहा जिसमें देश विदेश से आए हुए कलाकारों ने खूब जमकर प्रदर्शन किया और लोगों का मनोरंजन भी किया।

ICMEI के प्रेसिडेंट संदीप मारवाह ने इस कार्यक्रम में सहयोग के लिए सभी लोगों को धन्यवाद कहा। साथ ही कहा कि दिल्ली इंटरनेशनल आर्ट फेस्टिवल में दुनिया भर से आए हुए कलाकारों को एक मंच दिया गया है जहां पर वह अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन कर लोगों का खूब मनोरंजन कर रहे हैं।
5 दिनों तक चलने वाले इस फेस्टिवल के दूसरे दिन की शुरुआत “थर्ड आई बैंड” के साथ हुई जिन्होंने वंदे मातरम् गाकर पूरी महफ़िल को देश भक्ति से परिपूर्ण कर दिया।


कावेरी मेहता ने भारतनाट्यम का बेहद रोमांचक परफॉर्मेंस कर वहां पर बैठे हुए सभी दर्शकों की सांसो को एक पल के लिए रोक दिया। इस कार्यक्रम में शामिल हुए विभिन्न क्षेत्रों से आए कलाकारों ने अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन करते हुए बेहद रोमांचक सफर तय किया।
इस कार्यक्रम में शंकर जटाधार, आरती अग्रवाल, प्रोफेसर नामित कपूर जैसे कई अन्य गणमान्य महानुभावों ने अपनी गरिमामयी उपस्थिति दर्ज कर इस कार्यक्रम की शोभा बढ़ाई। कार्यक्रम में कलाकारों को सम्मानित भी किया गया।
दिल्ली इंटरनेशनल आर्ट फेस्टिवल में रोमानिया के कलाकारों ने बहुत ही सुंदर नाट्य की प्रस्तुति दी, “थाउजेंड एंड वन नाइट” नामक नाटक का प्रस्तुतीकरण भी किया गया जो दर्शकों को बहुत ही पसंद आया।
ICMEI के प्रेसिडेंट संदीप मारवाह ने इस मौके पर कहा कि आर्ट फेस्टिवल से पूरी दुनिया को जोड़ा जा सकता है और भारत सांस्कृतिक रूप से दुनिया के सबसे अग्रणी देशों में रहा है यहां की संस्कृति, सभ्यता यहां की कलाएं दुनियाभर की संस्कृतियों को मार्गदर्शन दे सकती है। यही भारतीय कला संस्कृति की विशेषता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here