मारवाह स्टूडियो में गणेश चतुर्थी के मैके पर तीन दिवसीय ग्लोबल लिटरेरी फेस्टिवल का आयोजन

0
96
ganesh chaturthi in marwah studio noida

गणेश चतुर्थी के शुभ अवसर पर उत्तर प्रदेश के नोएडा में स्थित मारवाह स्टूडियो में तीन दिवसीय ग्लोबल लिटरेरी फेस्टिवल का आयोजन किया गया जिसमें देश विदेश के कई प्रतिष्ठित लोगों ने भाग लिया। इस ग्लोबल फेस्टिवल में भारत सहित कई अन्य देशों के सांस्कृतिक एवम् कलाओं का प्रदर्शन किया गया। इसका उद्देश्य भारतीय लेखन संस्कृति एवम् कला को अन्य देशों के बौधिक एवं सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ जोड़ कर आगे बढ़ना है।

sandeep marwah byte

ग्लोबल लिटरेरी फेस्टिवल में ICMEI के प्रेसिडेंट संदीप मारवाह कहा कि दो बार नवरात्र आता है दो बार दीपावली आता है लेकी ग्लोबल फेस्टिवल चार बार आता है जिससे विद्यार्थियों को बहुत लाभ मिलता है इसका उद्देश्य बौधिक सम्पदा के माध्यम से भारत के संबंधों को दुनियां के अन्य देशों के साथ मजबूत करना है। इस कार्यक्रम में देश विदेश से आए हुए कई गणमान्य अतिथियों ने शिरकत की और अपने विचार भी व्यक्त किए। साहित्य समाज में आक्सीजन की तरह होता है, जो समाज को बौद्धिकता को जीवित रखता है,

संदीप मारवाह ने केन्द्रीय मंत्री रामदास अतवले को पहला श्री अटल बिहारी बाजपेई अवॉर्ड से नवाजा और अपनी संस्था का जीवनपर्यंत सदस्यता भी दी। राम दस अटवले ने ‘जेनिथ’ नाम की पुस्तक का विमोचन किया और प्रसिद्ध लेखक भारती प्रधान ने अपनी किताब ‘दा डार्क हार्स’ का भी विमोचन किया गया I भारती प्रधान की किताब में अभिनेत्री प्रियंका चोपड़ा के बारे में लिखा गया है

वेनुजुवेला के एंबेसडर ने संदीप मारवाह को मोमेंटो देकर सम्मानित किया, और भारत के साथ रिश्तों को मजबूत करने की भी बात की। सेनेगल के एंबेसडर ने कहा कि भारत और सेनेगल की संस्कृति में बहुत सारी समानताएं है। भारतीय परिधानों की सेनेगल में बहुत मांग रहती है, और वहां के लोग भारतीय परिधानों को बहुत शौक से पहनते है। ICMEI के प्रेसिडेंट संदीप मारवाह ने कहा कि सेनेगल ने मुझे बहुत सम्मान और प्यार दिया है जिसका मै सदा आभारी हूं।

मंगोलिया के प्रतिनिधि ने सबसे पहले हिंदी में सबको नमस्कार कर के सभी दर्शकों का दिल जीता लिया और। कहा कि भारतीय फिल्मों की मंगोलिया में बहुत मांग रहती है और भारतीय कलाकार मंगोलिया में बहुत पसंद किए जाते है। कार्यक्रम में आए हुए लेफ्टिनेंट जनरल के.एम. सेठ ने मंगोलिया के एंबेसडर की जमकर तारीफ की और संदीप मारवाह की 2019 में छत्तीसगढ़ में फिल्म विश्वविद्यालय शुरू किए जाने की पहल को अति सराहनीय प्रयास बताया। संदीप मारवाह ने कार्यक्रम में आए हुए सभी गणमान्य लोगों को मोमेंटो देकर सम्मानित किया और सबको धन्यवाद किया। फेस्टिवल के डायरेक्टर शुशील भारती ने कार्यक्रम में आए हुए लोगों का आभार व्यक्त किया। इस कार्यक्रम में समाज बाद के प्रवर्तक के राम मनोहर लोहिया। का पोस्टर भी लांच किया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here