मारवाह स्टूडियो में आयोजित ग्लोबल लिटरेरी फेस्टिवल में बच्चे कर रहे हैं अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन

0
104
global literary fest

मारवाह स्टूडियो में ग्लोबल लिटरेरी फेस्टिवल की पहली शाम शानदार रही गणेश वंदना के साथ कार्यक्रम की औपचारिक शुरुआत की गई, 3 दिन तक चलने वाले इस फेस्टिवल में बच्चों को अपनी प्रतिभा के प्रदर्शन का भरपूर मौका मिल रहा है और बच्चे भी इसमें खूब बढ़-चढ़कर भाग ले रहे और अपनी प्रतिभाओं को ग्लोबल लिटरेरी फेस्टिवल के माध्यम से निखारने का प्रयास कर रहे हैं।

”ग्लोबल लिटरेरी फेस्टिवल का उद्देश्य बच्चों को एक मंच देना है”

global lterary prog

मारवाह स्टूडियो के संस्थापक संदीप मारवाह ने कहा कि ग्लोबल लिटरेरी फेस्टिवल का उद्देश्य बच्चों को एक मंच देना है ताकि वह अपनी छुपी हुई प्रतिभाओं को निकाल सकें और भारत के साथ-साथ दुनिया में भी भारत की गौरव गाथा का प्रचार-प्रसार कर सकें।

अनु सिन्हा ने गणेश वंदना पर बहुत ही अच्छा परफॉर्मेंस किया जिसके लिए उन्हें भी ग्लोबल लिटरेरी अवार्ड से सम्मानित किया गया। इस कार्यक्रम में अंतरराष्ट्रीय कत्थक डांसर धीरेंद्र तिवारी और अनु सिन्हा ने शानदार परफॉर्मेंस दी।

कार्यक्रम का सिलसिला लगातार जारी रहा और एशियन एकेडमी ऑफ फिल्म एंड टेलीविजन के स्टूडेंटो ने फैशन शो के कई कैटेगरी में भाग लिया और बहुत ही शानदार फैशन शो का प्रदर्शन किया।
ग्लोबल लिटरेरी फेस्टिवल में कई तरह के सांस्कृतिक कार्यक्रमों का भी आयोजन किया गया जिसमें सभी प्रतिभागियों ने बहुत ही अच्छा प्रदर्शन किया और दर्शकों का मन मोह लिया ग्लोबल लिटरेरी फेस्टिवल का उद्देश्य बच्चों के अंदर छुपी हुई प्रतिभाओं को एक नया मंच देना साथ ही साथ भारतीय सभ्यता संस्कृति और ज्ञान का प्रसार विश्व के अन्य देशों में भी करना इस कार्यक्रम में भारत के अलावा कई अन्य देशों के प्रतिनिधि ने भी भाग लिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here