इस तस्वीर को मोदी जी देखेंगे तो शर्मा जाएंगे, पक्की बात

0
313
pm yojna
big mistake/ janganman

गलियों में, सड़को पर, चौक के किनारे लगे बड़े-बड़े बैनर्स, चाट-पकोड़े खाने वाले कागज में यहां तक की पड़ोस के घर की दीवारों तक हर जगह कहां नहीं हैं। कहीं सरकार के कसीदें (pm yojna) पढ़ता बैनर तो कहीं किसी कॉलेज और कोचिंग क्लास की तरीफ से लैस अटे पड़े बैनर्स। हर जगह प्रचार प्रचार और केवल प्रचार। जानते हैं क्यों, क्योंकि हमें आदत हो गई है इसकी। जी हां, सभी ये जान गए हैं कि किसी भी बेकार सी चीज को भी प्रचार के जरिए अच्छे दामों में बेचा जा सकता है।

विज्ञापन में हुई बड़ी गलती

अब आप सोच रहें होंगे कि जिस चीज के लिए इस खबर पर क्लिक किया है वो बताओं भइया। तो चलिए बिना वक्त गंवाए बताते हैं आपको कि आखिर ऐसी कौन- सी भूल है जिसने मोदी सरकार को शर्मसार होने पर मजबूर कर दिया है।दरअसल 30 अप्रेल की तारीख अखबारों के पहले पन्ने पर एक विज्ञापन निकला। जिसे देशभर के लाखों लोगों ने देखा। अब आप बोलेंगे कि इसमें नया नहीं है तो जरा धैर धरिए, बताते हैं बताते हैं।

  • आप भी देखिए कि क्या हुई गलती
  1. असल में ये विज्ञापन दीन दयाल उपाध्याय दीन दयाल ग्राम ज्योति योजना का है। हा हा हा ज्योति योजना, लगता है कि इस विज्ञापन को ढ़िबरी (एक कांच या लोहे का पात्र जिसे गांव में प्रकाश लाने के लिए इस्तेमाल किया जाता है) में बनाया गया है।
  2. अरे आपको अभी तक समझ नहीं आया। कमाल करते हैं यार आपलोग भी। जरा ध्यान से देखिए। अरे मोदी जी के चमकते चेहरे को नहीं भाई, पीछे हाईलाइटेड दो चेहरों को देखिए। हमने आपकी सहूलियत के लिए हाईलाइट कर दिया है। देखो अब मत कहना कि आपको अभी तक समझ नहीं आया।
pm yojna
big mistake/ janganman
  • एक महिला के दो चेहरे
  1. बता दें कि इस विज्ञापन में एक महिला के चेहरे को दो जगह दिखाया गया है। ई तो मिस्टेक हो गया भाई। मोदी जी जरा आगे नहीं पीछे देखिए। पीछे देखते ही आपको भी बहुत कुछ समझ आ जाएगा। अरे मोदी जी इतना एडवांस हो गए हैं आप फोटोशॉप से कुछ न कुछ करवा दिए होते तो मैं एक अदना सा पत्रकार कुछ नहीं कहता।
  2. चलिए कोई न मैं समझता हूं आपको काफी व्यस्त रहते हैं आप। शायद तभी आप नजर नहीं रख पाए। हालांकि इसमें मोदी जी की नहीं उनकी टीम की गलती है जिसने इस ऐसे को छपवाया है।
  • प्रचार का हो रहा है पूरा इस्तेमाल

इस तस्वीर से इतना तो साफ है कि सरकार सिर्फ और सिर्फ प्रचार करने पर ध्यान देती हैं। पैसे खर्च करना तो जानती है लेकिन इस पर कोई ध्यान देती बिल्कुल नहीं है। आज के दिनों में राजनीतिक पार्टियां प्रचार को सियासी फायदों के लिए काफी इस्तेमाल कर रहे हैं। राजनीतिक दलों ने लोगों के नस पांज लिया हैं, समझ रहे हैं न इसका मतलब। क्योंकि प्रचार सबसे अच्छा माध्यम है लोगों तक पहुंचने का। इसी वजह से राजनीतिक पार्टियां विज्ञापनों के लिए लाखों-करोंड़ों रुपए खर्च कर रहें हैं। लेकिन विडंबना ये है कि इस पर पूरी तरह से ध्यान नहीं दिया जा रहा है। कम से कम अब तक तो ऐसा ही होता आया है।

यह भी पढ़ें: priya prakash एक ऐड के लिए चार्ज करती हैं इतने पैसे, जानकर हैरान हो जाएंगे

Summary
इस तस्वीर को मोदी जी देखेंगे तो शर्मा जाएंगे, पक्की बात
Article Name
इस तस्वीर को मोदी जी देखेंगे तो शर्मा जाएंगे, पक्की बात
Description
इस तस्वीर से इतना तो साफ है कि सरकार सिर्फ और सिर्फ प्रचार करने पर ध्यान देती हैं। पैसे खर्च करना तो जानती है लेकिन इस पर कोई ध्यान देती बिल्कुल नहीं है। आज के दिनों में राजनीतिक पार्टियां प्रचार को सियासी फायदों के लिए काफी इस्तेमाल कर रहे हैं।
Author
Publisher Name
http://janganmannews.in/
Publisher Logo

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here