रांची विश्वविद्यालय के छात्र नेता शशांक राज ने क्यों लिखा प्रधानमंत्री को खत, यहाँ जाने

0
1723
shashank raj
shashank raj

Edited by K. Vishwa

के. विश्वा
Follow @Kvishwa1

रांची विश्वविद्यालय के छात्र नेता शशांक राज ने राष्ट्रीय युवा आयोग की गठन हेतु प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को पत्र लिखा है। छात्र नेता शशांक ने अपने पत्र में लिखा है कि भारत ऐसा देश है जहां दुनिया के मुकाबले सबसे ज्यादा युवा मौजूद हैं। केंद्र की वर्तमान सरकार ने महिला आयोग, अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति और अल्पसंख्यक आयोग के जरिए सराहनीय कार्य किए हैं। लेकिन हमारी यह मांग है कि युवा आयोग बने ताकि देश के विकास में हम युवाओं की भागीदारी सुनिश्चित हो सके। पत्र में शशांक ने राष्ट्रीय युवा आयोग बनने से युवाओं के योगदान और उपयोग का पूरा वर्णन किया है।

शशांक BRICS युवा सम्मेलन 2017 में ले चुके हैं भाग

युवाओं के लिये झारखंड में अपने काम और उऩके बीच चर्चित होने के कारण, उन्हें BRICS 2017 में भारत की ओर से भेजा गया था। शशांक युवाओं की राजनीति में हिस्सेदारी और समाज में भागीदारी जैसे विषयों पर हमेशा अपनी राय रखते आए हैं। शशांक रांची विश्वविद्यालय के सीनेट सदस्य भी हैं।
  • नगर निगम और नगर पंचायत चुनाव में उम्र सीमा को लेकर उठाया था प्रश्न 
हाल ही में नगर निगम एवं नगर पंचायत का चुनाव संपन्न हुआ है। अध्यक्ष उपाध्यक्ष, महापौर तथा उपमहापौर की न्यूनतम उम्र सीमा 30 साल रखी गयी थी। शशांक ने इस मामले को सोशल मीडिया के जरिए बहुत विरोध किया। पत्र लिख कर मुख्यमंत्री को युवाओं की उपेक्षा की बात भी कही थी।
  • युवा अपनी राय बेबाकी से रखे सामने 
छात्र राजनीति आज जहां नेताओं के पीछलगु और बैनर, झंडे, नारे तक सीमित होता दिख रहा है वहीं कुछ युवा अपनी राय बेबाकी से प्रधानमंत्री तक भी पहुंचा रहे हैं। जरुरत है मौजूदा हालात में छात्र नेताओं को अपनी अस्तित्व को समझने की ताकि देश,काल,परिस्थिति और बदलते समाज की जरूरत पर अपनी अावाज बुलंद करने की ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here